विभागीय कार्यो की पूरी जानकारी न होने पर जिलाधिकारी ने अधिकारियों को आगामी बैठकों में विभाग के कार्यो की पूरी जानकारी के साथ उपस्थित होने के निर्देश दिये।

0
9
IEP Champawat
जिलाधिकारी डा.अहमद इकबाल ने पीएमजीएसवाई चम्पावत द्वारा विभागीय कार्यो की पूरी जानकारी न होने पर आगामी बैठकों में विभाग के कार्यो की पूरी जानकारी एवं डाटा डायरी के साथ उपस्थित होने के निर्देश दिये। सोमवार को जिलाधिकारी जिला कार्यालय सभागार में केन्द्रपोषित योजनाओं की समीक्षा कर रहे थे। उन्होंने सभी अधिकारियों को विभागों के कार्यो की जानकारी रखने तथा विस्तृत जानकारी हेतु डाटा डायरी को उपयोग करने के निर्देश दिये। उन्होंने सख्त स्वर में कहा कि अधिकारी पूर्ण तैयारी के साथ बैठक में उपस्थित हों।
बैठक में जिलाधिकारी ने पीएमजीएसवाई द्वारा निर्मित की जा रही खटोली मल्ली-बैलामार्ग, धौनधुरी-बजौन, ललुवापानी-नधान, लधौली-दुबचौड़ा, सिप्टी-अमतड़िया आदि 6 करोड़ से चम्पावत सेक्टर में निर्मित की जा रही सड़कों की विस्तृत जानकारी चाही, जिस पर संतोषजवाब न देने पर उन्होंने एई पीएमजीएसवाई को लताड़ लगाते हुए आगामी समीक्षा बैठक में पूरी जानकारी व डाटा डायरी के साथ उपस्थित होने के निर्देश दिये।
उन्होंने मुख्य कृषि अधिकारी को उपलब्ध धनराशि का उपयोग उसी कार्य में करने के निर्देश दिये जिस कार्य हेतु धनराशि प्राविधानित की गई है। उन्होंने जनपद में गठित 25 कलस्टरों में किये जा रहे कार्यो की जानकारी न दे सकने पर नाराजगी व्यक्त करते हुए कलस्टरों में अन्य विभागों के कार्यो को भी सम्मिलित करने के निर्देश दिये। जिलाधिकारी ने जलागम को वाटरसेड प्रोग्राम में प्रोग्रेस की सूचना अभी तक न दिये जाने पर नाखुशी व्यक्त करते हुए खंड विकास अधिकारियों को भी वाटरसेट प्रोग्राम से जोड़ने और वाटरसेड के तकनीकी विशेषज्ञों को जनपद में बुलाकर काश्तकारों को कृषि, वाटरशेड आदि कार्यो का गहन प्रशिक्षण देने के निर्देश दिये। उन्होंने स्पष्ट स्वर में चेतावनी दी कि वाटरशेड तकनीकी विशेषज्ञों के अतिरिक्त अजानकार लोगों को आमंत्रित न करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here