शिक्षिका निलम्बन शीघ्र वापस लिया जाना चाहिए ।

0
26

IEP Dehradun

मुख्यमंत्री के जनता दरबार में महिला शिक्षिका के साथ हुई अभद्रता एवं तत्पष्चात गिरफ्तारी व निलम्बन के विरोध में उत्तराखण्ड  प्रदेश कांग्रेस कमेटी ने प्रदेश कंाग्रेस अध्यक्ष प्रीतम सिंह के आह्रवान पर कांग्रेसजनों ने देहरादून के गांधी पार्क में एक दिवसीय धरने का आयोजन किया गया। कार्यक्रम का संचालन  प्रदेश  उपाध्यक्ष सूर्यकान्त धस्माना ने किया। प्रदेश कंाग्रेस अध्यक्ष सिंह के नेतृत्व में कांगे्रसजनों का प्रतिनिधिमण्डल मुख्यमंत्री के जनता दरबार में हुई अभद्रता से पीडित महिला शिक्षिका उत्तरा पंत के निवास पर उनसे मुलाकात करेगा।

पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के तहत  प्रदेश  अध्यक्ष प्रीतम सिंह के नेतृत्व में बड़ी संख्या में कांग्रेस कार्यकर्ता गांधी पार्क में एकत्र हुए। इस बीच जनपद पौड़ी गढ़वाल के नैनीडांडा ब्लाक के भौंन-रामनगर मोटर मार्ग पर हुए भीशण बस दुर्घटना की सूचना मिलते ही कांग्रेसजनों ने बस दुर्घटना के मृतकों को श्रद्धांजलि के उपरान्त धरना स्थगित कर दिया गया।
धरने में उपस्थित कांग्रेसजनों को संबोधित करते हुए  प्रदेश  कांग्रेस अध्यक्ष सिंह ने दिनांक 28 जून, 2018 को मुख्यमंत्री के जनता दरबार में महिला शिक्षिका के साथ हुई अभद्रता दुर्भाग्यपूर्ण तथा मातृषक्ति का अपमान है।

उन्होंने कहा कि एक विधवा महिला शिक्षिका मुख्यमंत्री के जनता दरबार में अपनी व्यथा सुनाने आई थी परन्तु मुख्यमंत्री द्वारा उसकी समस्या का समाधान करने के बजाय उनके साथ जिस प्रकार का व्यवहार किया गया वह मुख्यमंत्री पद की गरिमा के विरूद्ध है। प्रीतम सिंह ने सरकार से मांग की कि शिक्षिका निलम्बन शीघ्र वापस लिया जाना चाहिए।

धरने में पूर्व मुख्यमंत्री हरीष रावत, पूर्व अध्यक्ष किषोर उपाध्याय, उपनेता प्रतिपक्ष करण महरा, विधायक हरीष धामी, पूर्व मंत्री हीरा सिह बिश्ट, दिनेष अग्रवाल, पूर्व विधायक गणेष गोदियाल, डाॅ0 अनुसूया प्रसाद मैखरी, डा0 जीतराम, राजकुमार, प्रेमानन्द महाजन, प्रदेष महिला अध्यक्ष सरिता आर्या, आदि सैकडों कांग्रेस कार्यकर्ता उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here